VPN क्या है तथा VPN काम कैसे करता है

Rate this post

VPN क्या है – अगर आप अपना अधिकतर सैम इन्टरनेट के इस्तेमाल में देते है तो आपको यह जानना बहुत ही जरुरी है की VPN क्या है तथा VPN काम कैसे करता है। इसका सबसे बड़ा कारण है सुरक्षा, जहा भी इन्टरनेट की सुरक्षा की बार आती है वह PVN का नाम जरुर आता है। लेकिन क्या आप जानते है की VPN Kya hai? और यह हमारे लिए ज्यादा जरुरी क्यों है अगर आप नहीं जानते की VPN क्या है तो कोई बात नही।

आज हम आपको बताएँगे की VPN kya hai तथा इसका इस्तेमाल हमें कैसे करना चाहिए। इसे साथ ही आपको ये भी बताएँगे की सबसे अच्छा VPN कौन सा है तथा इसके नाम क्या-क्या है।

VPN क्या है

VPN क्या है?

VPN का मतलब होता है Virtual Private Network यह एक नेटवर्क टेक्नोलॉजी है। जो एक असुरक्षित नेटवर्क को सुरक्षित नेटवर्क में बदलने का कार्य करती है तथा VPN का इस्तेमाल कर रहे यूजर की पहचान (आइडेंटिटी) आईपी एड्रेस (IP Address) और उसका लोकेशन को छुपा देता है। VPN क्या है इसे समझने से पहले हमें नेटवर्क को समझना होगा हम समझ सकते है की, VPN इसका इस्तेमाल कैसे करते है

नेटवर्क

चलिए इसे एक नेटवर्क के उदाहरण के माध्यम से समझते है – मान लीजिये आपने अपने घर में जो इन्टरनेट कनेक्शन लगवाया है, तो वहां आपके पास में एक मॉडेम या फिर एक राऊटर है। उसके अलावा मान लीजिये आपके घर में एक लैपटॉप है स्मार्ट TV है और मोबाइल फ़ोन है, अब आप अपने टीवी को मोबाइल से कनेक्ट किये है या लैपटॉप में wifi के माध्यम से फ़ोन से कुछ काम कर रहे है।

यहाँ भी एक नेटवर्क है लेकिन आपका यह एक इंटरनल नेटवर्क है यहाँ पर बाहरी दुनिया के इन्टरनेट का कोई भी लिंक नही है। लेकिन अगर आप इन्टरनेट में मौजूद किसी भी वेबसाइट पे जाते है जैसे – अगर आप यह लेख पढ़ रहे है वह जिस भी वेबसाइट पे है वह किसी न किसी डाटा सेंटर में स्टोर है चाहे वह (भारत में हो या अमेरिका में हो या इंग्लैंड में) तभी आप इस लेख को पढ़ रहे है।

उदाहरण – जब भी आप इन्टरनेट पे जाते है और सर्च करते है Google.com तब आपका रिक्वेस्ट वह जाता है जहाँ यह गूगल का पेज स्टोर है। अगर यह पेज सही होता है और सर्वर से जवाब आता है तभी आप Google.com को एक्सेस कर पाते है।

इन्टरनेट पे जितने भी वेबसाइट मौजूद है या जैसे google, youtube, gmail इसके अलवा जीने भी फ़ोन है या लैपटॉप है स्मार्ट टीवी है इन सभी का एक IP Address असाइन किया गया होता है और इसी के मदत से ये सारा कार्य होता है

जैसे ही आप गूगल पे कुछ सर्च करते है तब आपका ip address जाता है उस सर्वर तक जहा वह वेबसाइट या डाटा मौजूद होता है उसके बाद ही उस वेबसाइट या डाटा को एक्सेस कर पाते है। इसके कुछ फायदे भी है और कुछ नुकसान भी है।

इसका फायदा यह है की इसी टेक्निक की मदत से हम सभी इन्टरनेट का इस्तेमाल कर रहे है और यही ये तरीका है जहा से इन्टरनेट बना है। इसके नुकसान भी बहुत सारे है जो इस प्रकार है

  • हो सकता है आपका service प्रोवाइडर आपको ट्रैक करे की आप कौन से वेबसाइट को सर्च कर रहे है। क्युकी उनको आपका ip address पता होता हो और ये भी पता होता है की आप कौन से ip address के लिए रिक्वेस्ट कर रहे है।
  • ये भी हो सकता है आपकी सरकार (Government) आपके नजर रखे
  • अगर आप कोई ओपन wifi का उपयोग करते है तब आपपे नजर रखी जाये इसके अलवा आपका data भी चोरी हो सकता है।

बहोत बार आपने देखा होगा की आप कोई भी वेबसाइट को सर्च करते है और आप उस तक नही पहुच पाते है वह किसी कंट्री के लिए ब्लाक हो होता है या हो सकता है।

उदाहरण अगर आप इंडिया में बैठ के किसी ऐसे वेबसाइट को सर्च करते है जिसे किसी कारणवश इंडिया में ब्लाक किया गया हो, या अगर आप किसी दुसरे देश में है और वह बैठ के कुछ सर्च कर रहे जो जो केवल इंडिया के लिए available कराइ गए है तो आपको याह मेसेज मिलता है की this content is not available in your country

यह इस लिए होता है की सर्वर को पता चल जाता है की आप कौन से जगह से वह रिक्वेस्ट कर रहे है। तथा आपका ip address क्या है और उसके बाद वह आपको ब्लाक कर देते क्युकी आप उस देश में नही रहते जहाँ के लिए वह कंटेंट या वेबसाइट available कराइ गई है।

यही वो जगह है जहा पे VPN हमारे काम में आता है VPN के मदत से आप उन सभी कमियों को दूर कर सकते है जिसे आपने अभी उपर पढ़ा

VPN काम कैसे करता है

VPN क्या है
VPN क्या है

VPN को ऐसे समझ सकते है अगर आप इंडिया में है और किसी दुसरे देश में VPN सर्वर है। अगर आप इस सर्वर से एक बार कनेक्ट हो जाते है तब आपके और उस सर्वर के बिच में जो भी कनेक्शन होता है वह पूरा encrypted होता है। VPN के सर्वर से कनेक्ट होने के बाद किसी भी नेटवर्क प्रोवाइडर तथा government कुछ भी पता नही चलता की आप क्या बात कर रहे है।

इसके अलवा अगर आप किसी वेबसाइट को ओपन करते है और उस वेबसाइट पर रिक्वेस्ट करते है तो वह रिक्वेस्ट इंडिया से नहीं होता है वह उस होता है जिस देश के VPN सर्वर से कनेक्ट है। इस लिए वह वेबसाइट यह समझती है की सायद आप उस देश में मौजूद है इसके बाद आपको वही डाटा दिया जाता है जो उस देश के लिए है जिस देश के VPN सर्वर का उपयोग कर रहे है।

चीन में फेसबुक बैन है, अगर आप चीन जाते है और आपको फेसबुक का इस्तेमाल करना इस स्थिति में आप VPN का उपयोग कर सकते है। VPN की मदत से आप फेसबुक के अलावा किसी भी वेबसाइट का उपयोग कर पाएंगे जो चीन में बैन है।

VPN क्या है
VPN क्या है

अगर कोई ऐसा कंटेंट या विडियो है जो आपके देश में बैन है या कोई ऐसा सर्विस हो आपके नेटवर्क प्रोवाइडर द्वारा बैन किया गया हो उसे आप बहुत ही आसानी से VPN के माध्यम से एक्सेस कर सकते है और वह भी बिल्कुल सिक्यूरिटी के साथ, अगर आप VPN का उपयोग करते है तो आपपे कोई भी नजर नही रख सकता है।

प्ले स्टोर पे, app स्टोर पे लाखो की संख्या में vpn उपलब्ध है जिसमे से बहुत सरे पेड है तथा बहुत सारे फ्री भी है जिसका इस्तेमाल आप कर सकते है। जो फ्री होता है उसका स्पीड थोडा धीरे होता है इसके साथ ही एक सवाल हमेसा रहता है की फ्री vpn क्या सिक्योर है या नही, लेकिन जो VPN पेड होते है उनका स्पीड फ्री वाले बहुत ही तेज होता है और यह बिल्कुल सिक्योर होते है।

10 VPN जिसका इस्तेमाल आप अपने फ़ोन के लिए कर सकते है

अगर आप अपने स्मार्टफोन में VPN का उपयोग करना चाहते है तो आपको हम 10 ऐसे VPN बतायेंगे जो बिल्कुल फ्री है तथा बहोत ही अच्छे से कार्य करते है। अगर आप इन्हें डाउनलोड करना चाहते है तो निचे दिए लिंक से डाउनलोड कर सकते है।

VPN से जुड़े कुछ सवाल और जवाब

Conclustio निष्कर्ष

आज इस लेख में हमने यह जाना की VPN क्या है तथा VPN काम कैसे करता है। या VPN का इस्तेमाल कैसे करते है इसके साथ ही आपको 10 सबसे अच्छा VPN भी बताया जिसे app अपने स्मार्टफोन के लिए इस्तेमाल कर सकते है।

उम्मीद करता हु यह लेख आपको पसंद आया होगा अगर इस लेख से आपको कुछ नया सिखने को मिला हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करे और उन्हें भी बताये की VPN क्या है? तथा VPN काम कैसे करता है तथा उसका इस्तेमाल कैसे कर सकते है। इस लेख के बारे में अगर कोई सवाल पूछना चाहते हो या कोई सुझाव देना चाहते हो तो हमें कमेंट करके जरुर बताये।

Sharing Is Caring:

Leave a Comment